ट्विटर(Twitter) ने लद्दाख(Ladakh) को चीन(china) के हिस्सा दिखाने के लिए माफी मांगी, गलती सुधारने के लिए समय मांगा हिस्सा दिखाने के लिए माफी मांगी, गलती सुधारने के लिए समय मांगा

ट्विटर(Twitter) ने लद्दाख(Ladakh) को चीन(china) के हिस्सा दिखाने के लिए माफी मांगी, गलती सुधारने के लिए समय मांगा हिस्सा दिखाने के लिए माफी मांगी, गलती सुधारने के लिए समय मांगा

ट्विटर(Twitter) ने लद्दाख(Ladakh) को चीन(china)  हिस्सा दिखाने के लिए माफी मांगी, गलती सुधारने के लिए समय मांगा हिस्सा दिखाने के लिए माफी मांगी, गलती सुधारने के लिए समय मांगा

पैनल की अध्यक्ष मीनाक्षी लेखी ने इसके बारे में जानकारी दी

ट्विटर(Twitter) ने चीन(China) का लद्दाख(Ladakh) हिस्सा दिखाने के लिए माफी मांगी, गलती सुधारने के लिए समय मांगा


ट्विटर(Twitter) ने लद्दाख(Ladakh) को चीन(china) के हिस्से के रूप में गलत दिखाने के लिए लिखित में माफी मांगी है। ट्विटर(Twitter) ने मामले की जांच के लिए गठित संसदीय पैनल को लिखित में माफी मांगी है।


इसके साथ ही ट्विटर(Twitter) ने अपनी गलती को सुधारने के लिए 30 नवंबर तक का समय भी मांगा है। पैनल की अध्यक्ष मीनाक्षी लेखी ने यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि ट्विटर(Twitter) ने गलती को सुधारने के लिए 30 नवंबर तक का समय मांगा है।


ट्विटर(Twitter) इंक के मुख्य गोपनीयता अधिकारी डेमियन करेन ने भारत के नक्शे को गलत तरीके से पेश करने के लिए माफी मांगी है। आपको बता दें कि पिछले महीने डेटा प्रोटेक्शन बिल पर बनी संसद की संयुक्त समिति ने लद्दाख(Ladakh)(Ladakh) को चीन(china) का हिस्सा दिखाने के लिए ट्विटर(Twitter) की आलोचना की थी।


यह भी पढ़े:हिमाचल में 53 वर्षीय महिला टीचर की कोरोना(Corona) से मौत 


समिति ने कहा था कि इस तरह के कृत्य देशद्रोह की श्रेणी में आते हैं और इसके बाद ट्विटर(Twitter) से माफी की मांग की गई। समिति ने जल्द से जल्द गलती को सुधारने की चेतावनी भी दी। अब ट्विटर(Twitter) इंडिया के प्रतिनिधियों ने लेखी की अध्यक्षता वाले पैनल के सामने माफी मांगी है, लेकिन पैनल के सदस्यों ने चेतावनी दी कि यह एक आपराधिक कृत्य है जो देश की संप्रभुता को चोट पहुंचाता है।



पैनल के सदस्यों ने कहा कि माफी के लिए एक हलफनामा ट्विटर(Twitter) इंक द्वारा प्रस्तुत किया जाना चाहिए न कि इसकी मार्केटिंग शाखा ट्विटर(Twitter) इंडिया द्वारा। इस मांग के बाद, ट्विटर(Twitter) इंक के मुख्य गोपनीयता अधिकारी डेमियन करेन ने एक हलफनामे में माफी मांगी और गलती को सुधारने के लिए 30 नवंबर तक का समय मांगा।


इससे पहले, लेह के लद्दाख(Ladakh) के बजाय जम्मू और कश्मीर का हिस्सा दिखाए जाने के बाद मंत्रालय ने ट्विटर(Twitter) को नोटिस जारी किया था और सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं की भी कड़ी आलोचना हुई थी।



 हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हमारा Whats App Group

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Click Bellow To Remove Ad